भाववाचक संज्ञा किसे कहते है || Abstract Noun in Hindi

जिन संज्ञाओं से किसी पदार्थ के विशेष गुण, धर्म तथा व्यापार आदि का ज्ञान हो, उसे भाववाचक संज्ञा कहते हैं।
जैसे :- मधुरता, वीरता, प्रेम, आनन्द, क्रोध, भक्ति, बुढ़ापा, यौवन आदि 
भाववाचक संज्ञाएँ चार प्रकार के शब्दों से बनती हैं :
1. जातिवाचक संज्ञाएँबूढ़ा से बुढ़ापा, लड़का से लड़कपन, पशु से पशुतत्व, मनुष्य से मनुष्यता (मनुष्यत्व) आदि ।
2. विशेषण से :- सुन्दर से सुन्दरता (सौन्दय), मूर्ख से मूर्खता, चतुर से चतुरता, लम्बा से लम्बाई, आलसी से आलस्य आदि ।
3. क्रिया से :- लिखना से लिखाई, बुनना से बनावट, देना से दान, लड़ना से लड़ाई, पढ़ना से पढ़ाई, चलना से चाल आदि ।
4. सर्वनाम से :- अपना से अपनापन (अपनत्व), निज से निजत्व (निजता), अहं से अहंकार आदि।

भाववाचक संज्ञाएँ

यहाँ पर हमने कुछ महत्वपूर्ण भाववाचक संज्ञाओं को वर्णित किया है :-
शब्दभाववाचक संज्ञा
चढ़नाचढ़ाई
चिननाचिनाई
चुननाचुनाव
चोरचोरी
चिल्लानाचिल्लाहट
नहानानहान
नम्रनम्रता
नश्वरनश्वरता
निकलनानिकास
निपुणनिपुणता
निजनिजत्व
नास्तिकनास्तिकता
न्यूनन्यूनता
नीचनीचता
नाचनानाच
पण्डितपण्डिताई
प्रचुरप्रचुरता
प्रौढ़प्रौढ़ता
पीनापान
प्रभुप्रभुता
पशुपशुता
पहननापहनावा
पात्रपात्रता
पूजनापूजन
प्यासाप्यास
पीसनापिसाई
पुरुषपौरुष
पड़नापड़ाव
पुत्रपुत्रत्व
पहुँचनापहुँच
विश्वसनीयविश्वास
सूक्ष्मसूक्ष्मता
हिन्दूहिन्दुत्व
हिंसकहिंसा
हराहरियाली
हत्याराहत्या
कमानाकमाई
कृतज्ञकृतज्ञता
कृपणकृपणता
कायरकायरता
कृत्रिमकृत्रिमता
छोड़नाछूट
छापनाछपाई
जड़जड़ता
जलनाजलन
जातिजातीयता
ठगठगना
डरनाडर
डाकूडाका
ठण्डाठण्डक
ढीठढिठाई
तपस्वीतपस्या
तरुणतरुणाई
तपनातपन
थकनाथकावट
दोहरानादोहराई
दबानादबाव
दुर्बलदुर्बलता
देवदेवत्व
दासदासता
दौड़नादौड़
धनाढ्यधनाढ्यता
धीरधैर्य
मित्रमित्रता
वाचालवाचालता
विद्धान्विद्वत्ता
विधवावैधव्य
व्यक्तिव्यक्तित्व
शर्मानाशर्म
भाववाचक अस्तित्व
अस्तिअच्छाई
अच्छाअहंकार
अहंअनुकूलता
अनुकूलआत्मीयता
आत्माआतिथ्य
अतिथिअध्यापन
अध्यापकअमरता
अमरआवश्यकता
आवश्यकअनौचित्य
अनुचितअरुणाई
अरुणआलस्य
आलसीऐश्वर्य
ईश्वरइन्सानियत
इन्सानऔचित्य
उचितउग्रता
उच्छृंखलउच्छृखलता
उड़नाउड़ान
उदारऔदार्य
उतरनाउतराई
उलझनाउलझन
उभरनाउभार
कमकमी
कठिनकठिनाई
कहनाकहावत
कड़वाकड़वाहट
कड़ाकड़ाई
कंजूसकंजूसी
अज्ञअज्ञता
अपनाअपनापन
अधिकअधिकता
कुमारकौमार्य
कुशलकुशलता
कुलीनकुलीनता
कातनाकताई
क्रूरक्रूरता
खपनाखपत
खोजनाखोज
खट्टाखटास
खीझनाखीझ
खेलनाखेल
खोटाखोट
खिंचनाखिंचाव
गहरागहराई
गम्भीरगम्भीरता
गोलगोलाई
गिरनागिरावट
गानागान
गर्मगर्मी
गुरुगौरव
गिननागिनती
घबरानाघबराहट
चतुरचतुराई
चिकित्सकचिकित्सा
चमकनाचमक
चालाकचालाकी
शूरशौर्य
शिशुशैशव
श्रीमान्श्रीमत्ता
सेवकसेवा
स्वीकृत स्वीकृति
सुष्ठुसौष्ठव
स्थूलस्थूलता
संक्षिप्तसंक्षेप
सतीसतीत्व
सुधरनासुधार
सम्पन्नसम्पन्नता
सरलसरलता
हारनाहार
समृद्धसमृद्धि
सूझनासूझ
संयतसंयम
स्वस्वत्व
साधुसाधुता
संतुष्टसंतोष
सिकोड़नासिकुड़न
स्याहस्याही
सजानासजावट
सफेदसफेदी
आशा करते हैं आपको भाववाचक संज्ञा किसे कहते हैं,  विषय पसन्द आया होगा।



Post a Comment

Previous Post Next Post